नई दिल्ली 
भारतीय तेज धाविका हिमा दास ने गुरुवार को इतिहास रच दिया। उन्होंने IAAF वर्ल्ड अंडर-20 ऐथलेटिक्स चैंपियनशिप के 400 मीटर फाइनल में गोल्ड मेडल जीता। वह ट्रैक इवेंट में गोल्ड मेडल जीतने वालीं पहली भारतीय ऐथलीट हैं।  
 
18 वर्षीय दास ने 51.46 सेकंड का समय निकालकर टॉप पोजीशन हासिल की। दास ने बुधवार को सेमीफाइनल में भी 52.10 सेकंड का समय निकालकर टॉप किया था। पहले राउंड में भी उन्होंने 52.25 सेकंड का रेकॉर्ड समय निकाला था। 

असम की रहने वालीं दास ने भारतीयी अंडर-20 के रेकॉर्ड 51.32 सेकंड का समय निकालते हुए अप्रैल में गोल्ड कोस्ट कॉमनवेल्थ गेम्स में छठे स्थान पर रही थीं। इसके बाद से वह लगातार अपना समय सुधारती रही हैं। हाल ही में उन्होंने अंतरराज्यीय चैंपियनशिप में भी गोल्ड मेडल हासिल किया था। इस इवेंट में उन्होंने 51.13 सेकंड का समय निकाला था। 

हिमा दास ने अब स्टार जैवलिन थ्रोअर (भालाफेंक खिलाड़ी) नीरज चोपड़ा के एलीट क्लब में शामिल हो गईं। चोपड़ा ने 2016 के पिछले एडिशन में वर्ल्ड रेकॉर्ड के साथ गोल्ड मेडल जीता था। दास ट्रैक इवेंट में पदक जीतने वालीं पहली भारतीय ऐथलीट हैं। 

वर्ल्ड जूनियर चैंपियनशिप में इससे पहले भारत के लिए सीमा पूनिया (2002 के डिस्कस थ्रो में ब्रॉन्ज) और नवजीत कौर ढिल्लों (ब्रॉन्ज 2014 में डिस्कस) में पदक जीता था। 

Source : Agency