वित्तीय संकट से जूझ रही विमानन कंपनी जेट एयरवेज ने जून तिमाही के नतीजे जारी करने का फैसला टाल दिया है। बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज ने कंपनी से जून नतीजे नहीं जारी करने पर सफाई मांगी है।

शेयर 3 साल के निचले स्तर पर
जून तिमाही के नतीजे टालने की वजह से शुक्रवार को कंपनी का शेयर 14 फीसदी तक टूट गया। बीएसई पर शेयर 261.60 रुपए और एनएसई पर शेयर 258 रुपए के भाव पर आ गया, जो तीन साल का निचला स्तर है। बता दें कि कंपनी वित्तीय मुश्किलों से जूझ रही है और कंपनी के बोर्ड ऑफ डायरेक्टर ने नतीजों की समीक्षा नहीं करने का फैसला लिया। एयरलाइंस ने गुरुवार देर रात बीएसई फाइलिंग में इसकी जानकारी दी थी।
 

चेयरमैन नरेश गोयल ने जताया दुख
एयरलाइंस के चेयरमैन नरेश गोयल ने शेयरधारकों को संबोधित करते हुए कहा कि उनके शेयरधारकों को इस समय पैसा गंवाना पड़ा है जिसकी वजह से वह अपने को ‘दोषी और शर्मिंदा’ महसूस कर रहे हैं। जेट एयरवेट का शेयर शुक्रवार को 14 फीसदी तक लुढ़क गया। बीएसई पर 271.55 रुपए पर खुला और 13.29 फीसदी टूटकर 261.60 रुपए पर आ गया। वहीं एनएसई पर यह 271.60 रुपए पर खुला और 258 रुपए तक लुढ़का।
 

Source : Agency