अम्बिकापुर
एक हाई प्रोफाईल सीट से किन्नर के भाग्य आजमाने की घोषणा से राजनीतिक हलचल मच गई है. विधानसभा नेता प्रतिपक्ष टीएस सिंहदेव के कब्जे वाली अम्बिकापुर विधानसभा से इस बार एक किन्नर निर्दलीय चुनाव लड़ेगा. किन्नरों के जीवन पर बनने वाली फिल्म हंसा एक सहयोग मे काम करके चर्चा में आई मुस्कान ने जब से अम्बिकापुर से चुनाव लड़ने का एलान किया है. अम्बिकापुर विधानसभा ने दो बार से काबिज कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता ने सीधे तौर पर धन प्रलोभन देने से इंकार किया और भाजपा पर गंभीर आरोप लगाया.

मुख्यमंत्री डां रमन सिंह के राजनांदगांव सीट के बाद प्रदेश की दूसरी हाईप्रोफाईल सीट अम्बिकापुर विधानसभा से इस बार चुनावी मुकाबला दिलचस्प होने की उम्मीद है. दिलचस्प इसलिए क्योंकि इस सीट से बालीवुड की एक फिल्म में काम कर चुकी मुस्कान किन्नर ने पिछले दिनों निर्दलीय चुनाव लड़ने का एलान कर दिया है और उसने अपना तूफानी प्रचार भी शुरु कर दिया है. लेकिन इसी बीच एक पार्टी विशेष से कुछ खर्चा लेकर मुस्कान के चुनाव ना लड़ने की अफवाह भी फैली है.

इस पर प्रतिक्रिया देते हुए निर्दलीय प्रत्याशी मुस्कान ने उस दल के नेता को अपने अंदाज मे चुनौती दी है. 2013 के विधानसभा चुनाव मे कांग्रेस भाजपा की लड़ाई के बीच नोटा को साढ़े चार हजार से अधिक वोट पडे थे और इस बार मुस्कान के साथ आम आदमी पार्टी और जोगी बसपा एलायंस भी चुनावी मुकाबले में है. लेकिन मुस्कान ने जबसे चुनाव लड़ने का एलान किया है तब से दोनो दलो से उब चुके लोग मुस्कान को नोटा का आप्शन मान रहे हैं.

Source : Agency