पटना

बिहार में विपक्षी महागठबंधन के घटक दल राष्ट्रीय लोक समता पार्टी (रालोसपा) में घमासान मचा हुआ है। पार्टी विरोधी गतिविधियों में शामिल होने के कारण रालोसपा ने पार्टी के राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष नागमणि को उनके पद से बर्खास्त कर दिया। साथ ही कारण बताओ नोटिस जारी कर तीन दिन के अंदर जवाब देने को कहा। इस पर रविवार को नागमणि ने पार्टी की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया है।

इस्तीफा देने के साथ ही नागमणि ने रालोसपा के अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा पर कई गंभीर आरोप लगाए। उनके इन आरोपों पर पार्टी के महासचिव सत्यानंद दांगी ने करारा पलटवार किया है। उन्होंने कहा कि नागमणि अपने साथ-साथ अपनी पत्नी के लिए भी टिकट की मांग कर रहे थे। इस मांग को पूरा न करने पर नागमणि ने रंग बदलना शुरू कर दिया।

गौरतलब है कि नागमणि ने कुशवाहा को नौटंकीबाज करार देते हुए कहा कि उन पर कोई हमला नहीं हुआ था। पूरी प्लानिंग के साथ इस घटनाक्रम को अंजाम दिया गया था। नागमणि ने रविवार को पार्टी की सदस्या के साथ-साथ सभी पदों से इस्तीफा दे दिया है।

Source : Agency