पूर्णिया 
पूर्णिया पुलिस को बड़ी सफलता मिली है. पुलिस ने जिले के बायसी से तीन बड़े हथियार तस्कर को गिरफ्तार किया है. उनके पास से भारी मात्रा में कारतूस और एक एके 47 राईफल और दो यूबीजीएल लॉन्चर बरामद हुआ है. पूर्णिया पुलिस ने खुलासा किया है कि गिरफ्तार तस्करों के संबंध नगालैंड में सक्रिय उग्रवादी संगठन नैशनल सोशलिस्ट काउंसिल ऑफ नगालैंड (आईएम) यानी एनएससीएन (आईएम) से जुड़े हैं.

मामले की जानकारी देते हुए एसपी विशाल शर्मा ने कहा कि 7 फरवरी को ही बायसी थाना क्षेत्र में सफारी गाड़ी से जा रहे तीन हथियार तस्करों को पुलिस ने गिरफ्तार किया था. उस समय उनके गाड़ी से कुल 600 कारतूस बरामद हुआ था. लेकिन जब रिमांड पर लेकर तीनों तस्करों से पूछताछ की गई तो उसे बताया कि उनके गाड़ी में अन्य अत्याधुनिक हथियार भी हैं. जब गाड़ी के बॉक्स को खोला गया तो उसमें बने तहखाना में एक एके47 राइफल, दो यूबीजीएल लॉन्चर और 1200 कारतूस बरामद हुआ.

एसपी ने कहा कि ये तस्कर इन अत्याधुनिक हथियारों को पटना में कुख्यात अपराधी मुकेश सिंह को सप्लाई करने वाले थे. उन्होंने कहा कि इन तस्करों ने पहले भी मुकेश सिंह को कई अत्याधुनिक हथियार और कारतूस सप्लाई किया है.

एसपी के मुताबिक ये सभी हथियार म्यांमार के बने हैं. गिरफ्तार तीनों तस्करो में सूरज सिंह गोरखपुर, वीआर कहोरनगम मणिपुर और क्लीयरसन कावो मणिपुर के रहने वाले हैं. ये तस्कर नागालैंड से हथियार लेकर पटना जा रहे थे.

एसपी ने कहा कि पूछताछ में इन तस्करों ने बताया कि पहले भी चार अत्याधुनिक हथियार ये बिहार में सप्लाई कर चुके हैं. ये लोग नक्सलियों को भी हथियार की सप्लाई करते थे. इनका संबंध नगालैंड में सक्रिय उग्रवादी संगठन नैशनल सोशलिस्ट काउंसिल ऑफ नगालैंड (आईएम) यानी एनएससीएन (आईएम) से जुड़ा था.

Source : Agency