सकारात्मकता के जरिए बनाएंगे छत्तीसगढ़ में सरकार :- सिंहदेव

 

छत्तीसगढ़ विधानसभा के नेता प्रतिपक्ष एवं कांग्रेस वरिष्ठ नेता टीएस सिंहदेव से हेमन्त चतुर्वेदी की सीधी बात...

 

 

सवाल- छत्तीसगढ़ की मौजूदा सियासत को कैसे देखते हैं ?

जवाब- फिलहाल छत्तीसगढ़ की राजनीति में सरकार के प्रति आम लोगों की नाराजगी आसानी से महसूस की जा सकती है। यूं तो रमन सरकार चुनावों को देखते हुए, अपनी झूठी उपबल्धियों का ढिंढोरा पीट रही है, लेकिन असल हालात सबके सामने हैं और इस बार प्रदेश की जनता से रमन सरकार को सत्ता से बाहर करने का मन बना लिया है। वहीं दूसरे मोर्चे पर हम यानी कांग्रेस 2018 विधानसभा चुनाव को लेकर पूरी तरह आश्वस्त हैं, और जमीन पर भी हम पूरी मेहनत के साथ एकजुट होकर काम कर रहे हैं। हमें विश्वास है, कि इस बार छत्तीसगढ़ में हमारी सरकार बनेगी। 

 

 

सवाल- इन चुनाव में क्या कुछ प्रमुख मुद्दे रहेंगे छत्तीसगढ़ कांग्रेस के ?

जवाब- देखिए, मुद्दे तो कई हैं जिन्हें हम जनता के बीच लेकर जाएंगे। लेकिन इस बार हम अपनी रणनीति में थोड़ा बदलाव करने जा रहे हैं। इन चुनाव में हम सिर्फ सत्ता पक्ष की नकारात्मकता ही नहीं बल्कि अपनी सकारात्मकता को लोगों के बीच ले जाएंगे। हम लोगों को वो विजन दिखाएंगे, जिससे हम छत्तीसगढ़ और यहां की जनता का भला कर सकें। हम जनता के बीच जाकर उसे उन मुद्दों के बारे में बताएंगे, जिन पर रमन सरकार ने पिछले 15 सालों में काम नहीं किया। फिर भले ही वो मुद्दे युवाओं और महिलाओं से जुड़े हों या फिर आदिवासी और किसानों से। हमारी कोशिश सबको साथ लेकर चलने की होगी। 

 

सवाल- क्या मध्यप्रदेश की तरह छत्तीसगढ़ कांग्रेस में भी कुछ बदलाव देखने को मिल सकता है, सीएम के चेहरे को लेकर क्या कहोगे ?

जवाब- इस तरह की किसी संभावना की कोई उम्मीद नहीं है। प्रदेश में कांग्रेस बहुत बेहतर काम कर रही है। आम कार्यकर्ता के अलावा हाईकमान के साथ भी प्रदेश नेतृत्व का बेहतरीन तालमेल है। हालांकि चुनावी लिहाज से कार्यकारिणी का गठन जरूर दोबारा किया जाएगा। लेकिन प्रदेश नेतृत्व में किसी भी तरह के बदलाव की गुंजाइश नहीं है। रही बात सीएम के चेहरे की, तो वह सिर्फ मीडिया की अटकलों और कयासों तक सीमित है। इसके बारे में  चुनावी नतीजों के बाद पार्टी का विधायक दल और हाईकमान तय करेगा।

 

सवाल- चुनावों में गठबंधन को लेकर क्या कुछ रणनीति है आपकी, अजीत जोगी कितना असर छोड़ेंगे ?

जवाब- छत्तीसगढ़ में वापसी के लिए कांग्रेस हर संभव विचार पर गौर कर रही है और गठबंधन भी हमारे मसौदे में शामिल हैं। अगर हमें उसकी विचारधारा का समर्थन करने वाला कोई सियासी दल मिलता है, तो हम इस दिशा में कदम उठाएंगे। और इस तरह के सहयोगी के लिए हमारी तलाश भी जारी है। वहीं रही बात अजीत जोगी की, तो उनको कांग्रेस का जितना नुकसान करना था, उन्होंने कर लिया। कांग्रेस में रहकर वह उसे जितना नुकसान पहुंचा रहे थे, अब नहीं पहुंचा सकते। और इस बात को प्रदेश की जनता भी समझ गई है, कि अजीत जोगी कोई और नहीं बल्कि रमन सिंह की बी टीम है। 

 

 

सवाल- व्यक्तिगत तौर पर आपका स्वभाव हमेशा चर्चा का विषय रहा है, इसके बारे में क्या कुछ कहोगे ?

जवाब- इसके लिए मैं पूरी तरह अपने जीन्स को जिम्मेदार मानता हूं। अक्सर लोग मुझसे सवाल करते हैं कि आखिर एक राजघराने से ताल्लुक रखने के बाद मैं इतना सामान्य कैसे हूं। तो मैं बस इतना ही कहता हूं, कि बचपन से ही मुझे यही माहौल मिला है। कभी भी न तो मुझे यह बताया गया, कि मैं खास हूं और न ही मेरे माता पिता खुद को खास मानते थे। लिहाजा अपने आप को बहुत सामान्य मानना मेरी आदत बन गया। और मेरी यही आदत मेरी पहचान बन गई।

 

(साभार राजनीतिक मर्म)